mppsc mains पेपर 2 section B का महत्वपूर्ण टॉपिक WHO – उद्देश्य, संरचना, कार्य एवं कार्यक्रम को इस पोस्ट में पूरा Cover किया गया है, इस पोस्ट को पढ़ने के बाद WHO से सम्बंधित परीक्षा में आने वाला 1 भी प्रश्न नहीं छुटेगा….

World Health Organisation / विश्व स्वास्थ्य संगठन

content-

  • मुख्य परीक्षा में विगत वर्षो में पूछे गए प्रश्न
  • WHO की सामान्य जानकारी
  • WHO के उद्देश्य
  • WHO की संरचना
  • WHO के कार्य/ funition
  • भारत और विश्व स्वास्थ्य संगठन
  • डब्ल्यूएचओ के कार्यक्रम भारत में
  • अन्य जानकारी

 

मुख्य परीक्षा में विगत वर्षो में पूछे गए प्रश्न-



  • WHO की संरचना एवं प्रकार्यों (function) की विवेचना करो | [वर्ष 2015, 15 अंक]
  • WHO की संरचना पर प्रकाश डालिए | [वर्ष 2016, 6 अंक]
  • WHO का  Headquarter कहां है ? [वर्ष 2016, 3 अंक]
  • WHO के उद्देश्यो उल्लेख कीजिए | [वर्ष 2017, 6 अंक]
  • 2018- NO question ask

विश्व स्वास्थ्य संगठन से सम्बंधित सामान्य जानकारी –

स्थापना – 7 अप्रैल 1948…

मुख्यालय- जेनेवा (Switzerland)…

अध्यक्ष – Tedros Adhanom…

7 april- world health day…

सदस्य राष्ट्रों की संख्या – 194…

विश्व स्वास्थ्य संगठन के उद्देश्य –

  • स्वास्थ्य के उच्चतम संभव स्तर की प्राप्ति |
  • health संबंधित जागरूकता का प्रसार |
  • बीमारी संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी तथा उनके निवारण हेतु उपायों की खोज हेतु प्रोत्साहन |
  • वैश्विक स्तर पर बीमारीवश होने वाली मृत्यु में गिरावट दर्ज को कम करना |
  • मातृ एवं बाल विकास हेतु कार्य करना |
  • सदस्य देशों के मध्य स्वास्थ्य संबंधित नीति निर्माण हेतु दबाव बनाना |
  • संघर्ष प्रद क्षेत्र में मानवीय स्वास्थ्य के सुधार हेतु कार्य करना | उदाहरण – अफ्रीका, नाइजीरिया, पाकिस्तान आदि में चल रहे स्वास्थ्य मिशन |

विश्व स्वास्थ्य संगठन की संरचना-

विश्व स्वास्थ्य संगठन का कार्य 4 भागों के माध्यम से होता है-

  1. स्वास्थ्य सभा
  2. कार्यकारी बोर्ड
  3. सचिवालय
  4. क्षेत्रीय समितियां

विश्व स्वास्थ्य सभा –



  • सभी सदस्यों के प्रतिनिधित्व वाली यह सभा डब्ल्यूएचओ का राजनीतिक अंग है |
  • यह संगठन की सभी दीर्घकालिक योजनाओं को स्वीकृति देती है तथा बजट एवं वार्षिक कार्यक्रम तैयार करती है |
  • सभा द्वारा अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य समझौतों की सिफारिश एवं अनुमोदन किया जाता है तथा तकनीकी स्वास्थ्य विनियमों को अंगीकृत किया जाता है |

कार्यकारी बोर्ड –

  • 32 सदस्य ही कार्यकारी बोर्ड में सदस्य सरकारी प्रतिनिधियों के रूप में नहीं बल्कि अपनी व्यक्तिगत क्षमताओं के आधार पर कार्य करते हैं |
  • बोर्ड की बैठक वर्ष में दो बार होती है |
  • यह सभा का एजेंडा तैयार करता है |
  • सभा के निर्णयों के क्रियान्वयन पर निगरानी रखता है |

सचिवालय –

  • इसका एक महानिदेशक होता है | वर्तमान में Tedros Adhanom है |
  • जिसकी सहायता हेतु एक उप महानिदेशक एवं कई सहायक महानिदेशक होता है |

क्षेत्रीय समितियां –

  • डब्ल्यूएचओ एक अल्प केंद्रीकृत संगठन है |
  • इसके कार्यक्रम के छः क्षेत्रीय समितियां/ संगठनों द्वारा लागू किए जाते हैं
  • प्रत्येक क्षेत्रीय समिति में एक प्रमुख निदेशक होता है (जिनका वर्णन निचे है)

mppsc mains paper 2 सहकारी संघवाद की जानकारी

कार्य/ function –

  • स्वास्थ्य सेवाओं का विकास, रोग निवारण व नियंत्रण, पर्यावरणीय स्वास्थ्य का संवर्धन |
  • स्वस्थ मानव शक्ति विकास तथा जैव -चिकित्सा, स्वास्थ्य सेवाओ , शोध तथा स्वास्थ्य कार्यक्रमों का विकास एवं प्रोत्साहन शामिल है |
  • डब्ल्यूएचओ सदस्य देशों को उन स्वास्थ्य सेवाओं के विकास में सहयोग प्रदान करता है, जिनका लक्ष्य सभी के लिए स्वास्थ्य देखभाल सुनिश्चित करना, मातृ एवं बाल स्वास्थ्य को सर्वहित करना, परिवार नियोजन, पोषण, स्वास्थ्य शिक्षा, व स्वास्थ्य अभियांत्रिकी स्वच्छ जल आपूर्ति व सफाई व्यवस्था संक्रामक रोगों की रोकथाम, दवाओ व टीको का उत्पादन व गुणवत्ता नियंत्रण तथा शोध प्रोत्साहन इत्यादि होता है |
  • संगठन स्वास्थ्य आंकड़ों के संग्रहण विश्लेषण एवं वितरण में भी सहयोग करता है तथा रोगों के लक्षणों बीमारियों व उपचारों के संबंध में तुलनात्मक अध्ययन को प्रायोजित करता है |
  • यह संगठन अंतरराष्ट्रीय स्वास्थ्य संबंधित मामलों में सिफारिश प्रस्तुत करता है |
  • विभिन्न संधियों, समझोतो व विनियमों का प्रस्ताव रखता है|
  • यह रोगों की अंतरराष्ट्रीय नामावली को तैयार व संशोधन करता है तथा खाद्य व औषधि पदार्थों के अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण को विकसित एवं प्रोत्साहित करता है |
  • डब्ल्यूएचओ संघर्ष प्रभावित क्षेत्रों में मानवीय आधार पर स्वास्थ्य सहायता भी उपलब्ध कराता है, जैसे प्लेस्टाइन, नाइजीरिया आदि देशों में |
  • पिछले वर्षों में संगठन द्वारा वर्ष 2000 तक सभी के लिए स्वास्थ्य नामक मुख्य सामाजिक लक्ष्य की प्राप्ति हेतु राष्ट्रीय, क्षेत्रीय व भूमंडलीय रणनीतियों को प्रोत्साहित किया गया |
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन ने टीकाकरण कार्यक्रम में विशेष सफलता अर्जित की है, छोटा चेचक का टीकाकरण अभियान द्वारा उन्मूलन |
  • संगठन एड्स विरोधी प्रयासों को भी समन्वित करता रहा है |
  • डब्ल्यूएचओ द्वारा कैंसर, ह्रदय रोग वह मस्तिष्क शोध जैसी गैर संचारी बीमारियों के विषय में भी शोध कार्यों को सघन किया है |
  • WHO ने 10 प्रमुख जानलेवा बीमारियों की पहचान की है जिनमें कैंसर, सेरेब्रोवस्कुलर डिजीज, एक्यूट लोअर रेसपायरेटरी इंफेक्शन, पेरिनेटल कंडीशन, टीबी, कोरोनरी हार्ट डिजीज, अतिसार, डिसेंट्री तथा एड्स एचआईवी शामिल है |

भारत और विश्व स्वास्थ्य संगठन –



  • भारत भी विश्व स्वास्थ्य संगठन का एक सदस्य देश है |
  • संगठन की क्षेत्रीय समिति दक्षिण पूर्वी एशिया का मुख्यालय दिल्ली में है |
  • डब्ल्यूएचओ और भारत ने 13 मई 2016 को चिकित्सा के पारंपरिक प्रणालियों के वैश्विक पदोन्नति हेतु परियोजना सहयोग समझौता पर जनेवा में हस्ताक्षर किए |
  • इसका उद्देश्य परंपरागत और पूरक चिकित्सक में गुणवत्ता सुरक्षा और सेवा प्रावधान की प्रभाविता में सहयोग को बढ़ावा देना है |
  • भारत की ओर से आयुष मंत्रालय केंद्र सरकार में सचिव अजीत ऍम शरण और डब्ल्यूएचओ की ओर से सहायक महानिदेशक डॉ मेरी कीनी ने हस्ताक्षर किए |
  • वर्ष 2016 से 2020 तक की अवधि के लिए पीसीए पहली बार योग में प्रशिक्षण के लिए तथा आयुर्वेद, यूनानी और पंचकर्म में प्रैक्टिस के लिए डब्ल्यूएचओ बेंचमार्क दस्तावेज प्रदान करेगा |

डब्ल्यूएचओ के कार्यक्रम भारत में

  1. मलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम,
  2. पोलियो उन्मूलन कार्यक्रम,
  3. टीकाकरण अभियान,
  4. स्वास्थ्य सेवा प्रबंधन, गुणवत्ता संबंधित मानकों का निर्धारण,
  5. शोध कार्यक्रम में प्रोत्साहन आदि |

अन्य जानकारी –

  • WHO के सविधान को 22 जुलाई 1946 को स्वीकार किया गया और यह 7 अप्रैल 1948 से लागू हो गया |
  • 15 नवंबर 1947 को यह संयुक्त राष्ट्र का विशिष्ट अभिकरण बना |
  • WHO द्वारा जन स्वास्थ्य के अंतर्राष्ट्रीय कार्यालय ( 1907 में स्थापित राष्ट्रीय संघ से संबंधित स्वास्थ्य संगठन) के कार्यों तथा संयुक्त राष्ट्रीय राहत एवं पुनर्वास प्रशासन की गतिविधियों को भी हाथ में ले लिया गया है |
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन को सर्वाधिक सफल संयुक्त राष्ट्रीय अभिकरण मैं से एक माना जाता है |
  • यह अंतरिम स्वास्तिक कारकों से संबंधित समन्वयकारी प्राधिकरण के रूप में कार्य करता है तथा स्वास्थ्य मामलों में सक्रिय सहयोग को प्रोत्साहित करता है |
  • रक्त उपलब्धता बढ़ाने एवं रक्तदान को प्रोत्साहन करने हेतु 14 जून को विश्व रक्तदान दिवस के रूप में मनाना |

WHO official site – click it

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating / 5. Vote count:

No votes so far! Be the first to rate this post.